वे सौदे, जिन पर आयकर विभाग की है नजर, जानने के लिए ध्यान दें इधर!

Banking Finance News News
Save

Business Mantra: Faridabad


आयकर विभाग ने वित्तीय वर्ष 2015-16 में लगभग 60 लाख ऐसे सौदे की सूची बनाई है, जिनमें सौदा करने वाले व्यक्ति ने अपनी आयकर विवरणी (Income Tax Return) भी दाखिल नही की है। फिर आपके मन में यह प्रश्न उठना जायज है कि विभाग को ऐसे सौदों की खबर कहाँ से लगी। कुछ लोगों को यह असमंजस है कि क्या किसी ने उनकी आयकर विभाग में शिकायत तो नही कर दी। जबकि विभाग ने ये आँकडें इक्ठ्ठे करने के लिए एक ऐसी प्रणाली विकसीत की है, जिसमे वित्तीय वर्ष समाप्त होते ही विभाग को ये जानकारियाँ स्वतः ही मिलने लग जाती है।

कौन सी है वे जानकारियाँ-

कुछ संस्थाओ के द्वारा वित्तीय वर्ष समाप्त होने के पश्चात् एक Annual Information Return (AIR) फाइल की जाती है इस AIR के द्धारा विभाग को निम्नलिखित सौदों की जानकारियाँ मिल जाती है-

  1. रजिस्ट्रार या उपरजिस्ट्रार द्वारा 30 लाख या उससे अधिक मूल्य की, अचल संपत्ति की खरीद फरोख्त
  2. बैंक में वित्तीय वर्ष के दौरान Saving खाते में 10 लाख या उससे अधिक नकद (Cash) राशि जमा करने पर। चाहे यह राशि थोड़ी-थोड़ी करके अलग-2 दिनो में जमा कराई गई हो, यदि कुल नकद जमा 10 लाख से ऊपर पहुँच जाएगी तो उस खाते की जानकारी बेकों द्वारा AIR के माध्यम से आयकर विभाग को दे दी जाएगी।
  3. किसी भी कपंनी के 1 लाख से अधिक के शेयर निर्गमन में निवेश करने पर।
  4. किसी भी कपंनी के 5 लाख से अधिक के Debentures या वॉडस निर्गमन के निवेश करने पर
  5. RBI द्वारा, किसी वित्तीय वर्ष मे, किसी व्यक्ति की 5 लाख या उससे अघिक की राशि के RBI वॉड़स निर्गमित करने पर।
  6. क्रेडिट कार्ड द्वारा पूरे साल में 2 लाख से ऊपर का भुगतान।
  7. किसी भी Mutual Fund में 2 लाख या उससे अधिक राशि का निवेश।

यदि ये सौदें आपने किए है, और आप अपनी आयकर रिर्टन फाइल नही कर रहें है, तो आप अपने पैरों पर कुल्हाडी मारने जैसा काम कर रहे है क्योकि विभाग के पास तो यह सूचना पहुँच ही जाएगी। और उसके बाद कर के साथ-2 आपको जुर्माना और अभियोजन का भी सामना करना पड़ सकता है।

About the author

admin